मां गोठड़ा की वर्ष 2019 की भविष्यवाणी ने विपक्षीयों में मचाई खलबली

Ratlam 14-04-2019 Regional

* देश का राजा वही रहेगा 
* वर्षा होगी 
* लहसुन में तेजी होगी 

यहां लोगों की आस्था है कि जो भी भविष्यवाणी होती है वह सत्य साबित होती है 

रतलाम . रतलाम व उज्जैन जिले की अंतिम सीमा पर बसे गोठड़ा में रविवार को श्रीमहिषा सुर मर्दनी माता के ईष्ट वाले पंडाजी ने भविष्यवाणी की । यहां हर साल मलेनी नदी के तट पर स्थित चबूतरे से भविष्यवाणी होती है। वैसे तो इसका महत्व खेत हकाई मुहूर्त, फसलों के भावों में उतार-चढ़ाव व बारिश के अनुमान के लिए है। इसीलिए यहां आने वाले लोगों में ज्यादातर किसान रहते हैं। चुनावी साल में राजनीतिक उथल-पुतल जानने की जिज्ञासा भी लोगों में रहती है। कई बार माताजी के ईष्ट वाले पंडाजी  राजनीति से जुड़े हुए भी संकेत देते हैं। पूर्व वर्ष  में  भी यहां भविष्यवाणी हुई थी कि देश का राजा बदलेगा। इसके बाद जब चुनाव परिणाम आए तो बात सही साबित हो गई।  केंद्र में कांग्रेस सरकार की गद्दी संभाले हुए थे तभी गोठड़ा माताजी के  पंडा जी ने यह भविष्यवाणी की थी कि देश का राजा बदलेगा तभी बीजेपी के  प्रधानमंत्री पद के दावेदार हुए उन्होंने सत्ता की गद्दी संभाली तब से राजनीति का भविष्य जानने की ललक लोगों में बढ़ गई। इस बार भी चुनावी साल है इसलिए भविष्यवाणी सुनने के लिए हजारों लोग जुटें ।  यह भविष्यवाणी का सिलसिला कई वर्षों से चला आ रहा है और लोगों में आस्था और मान्यता है कि जो भी यहां भविष्यवाणी होती है वह सत्य साबित होती है इस बार भविष्यवाणी में वर्षा अधिक होने के संकेत दिए हैं व ओलावृष्टि होने की भी संभावना जताई है फसलों के भाव में अच्छी खासी वृद्धि बताई गई है लड़ाई झगड़े दंगों एवं एक्सीडेंट इस वर्ष अधिक होने की भविष्यवाणी गोठड़ा माताजी के पंडा द्वारा की गई है व  राजनीति के समीकरण को देखें तो देश का राजा वही बताया गया है जो वर्तमान में है यानी कि सीधे-सीधे संकेत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बनने की संभावना जताई गई है कि देश का राजा नरेंद्र मोदी ही रहेगा चैत्र नवरात्रि में यहां सात दिनी पंचकुंडीय महायज्ञ एव मेला आयोजन होता हे 

पंडा जी नागूलाल चौधरी  दोपहर 2 बजे पंडा भविष्यवाणी की । ऐसी मान्यता है कि उन्हें माताजी का ईष्ट प्राप्त है, इसलिए उनके मुंह से जो वाणी निकलती है, वही भविष्यवाणी बनकर सही साबित होती है। यह आयोजन सालभर में एक दिन होता है।  

प्रादेशिक