वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम का चयन आज होना है, चौथे स्थान के लिए 4 दावेदारों है, दूसरे विकेट कीपर के लिए कार्तिक व पंत रेस में है

Neemuch 15-04-2019 Sports

इंग्लैंड -(लेवेन्द्र सिंह शेखावत रतलाम) इंग्लैंड में 30 मई से 14 जुलाई तक 12वां वनडे वर्ल्ड कप खेला जाएगा। इसके लिए मुख्य कोच रवि शास्त्री और कप्तान विराट कोहली के साथ मिलकर मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय समिति मुंबई में सोमनवार को भारतीय टीम का चयन करेगी। टीम में 15 खिलाड़ियों को जगह दी जाएगी। चयनकर्ताओं को चौथे स्थान और दूसरे विकेटकीपर की जगह को लेकर माथापच्ची करनी है। दिनेश कार्तिक और ऋषभ पंत में से किसी एक को दूसरे विकेटकीपर के तौर पर चुना जा सकता है।
 चौथे स्थान के लिए चार खिलाड़ी अंजिक्य रहाणे, श्रेयस अय्यर, अंबाती रायडू और लोकेश राहुल दावेदार हैं। इनमें से किसी एक को वर्ल्ड कप का टिकट मिल सकता है। रायडू ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 3 मैच में 33 रन बनाए राहुल ने एक मैच में 26 और पंत ने दो मैच में 52 रन बनाए थे।
इनमें राहुल के चुने जाने की संभावना ज्यादा है। उन्होंने आईपीएल के इस सीजन में 8 मैच में 335 रन बनाए हैं। इसमें एक शतक और तीन अर्धशतक शामिल हैं। अय्यर ने 7 मैच में  221 रन, रहाणे ने 7 मैच में  175 रन और रायडू ने 8 मैच में 133 रन बनाए हैं।
1. कोहली ने कहा था- सिर्फ एक स्थान के लिए माथपच्ची-
ऑस्ट्रेलिया सीरीज के बाद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने कहा था कि चयन के लिए सिर्फ एक ही स्थान के लिए माथापच्ची करनी होगी। बाकी खिलाड़ियों की लिस्ट पिछले एक साल में तैयार कर ली गई 
थी। वहीं बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ ने कहा था कि 40 से 50 वनडे खेलने वाला खिलाड़ी ही वर्ल्ड कप के मैचों में खेलेगा।   
2. दूसरे विकेटकीपर के लिए कार्तिक का पलड़ा भारी-
दूसरे विकेटकीपर के तौर दिनेश कार्तिक का पलड़ा भारी माना जा रहा है। पिछले एक साल से वे टीम के साथ हैं। उन्होंने एक जनवरी 2018 से 12 वनडे खेले। इनमें कुल 242 रन बनाए। कार्तिक के पक्ष में 15 साल से अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने का अनुभव भी जाता है। दूसरी ओर पंत ने अब तक कुल 5 वनडे ही खेले हैं
3. स्पिन को मदद देने वाली पिचों पर जडेजा असरदार होंगे-
बीसीसीआई के पदाधिकारी ने कहा दूसरा विकेटकीपर तभी खेल पाएगा जब धोनी अनफिट होंगे। ऋषभ एक प्रतिभावान खिलाड़ी हैं लेकिन वनडे में उन्होंने कुछ खास प्रदर्शन नहीं किया है। क्या वे 50 ओवर तक लगातार तेजी से रन बना सकते हैं? टीम प्रबंधन हार्दिक पंड्या और विजय शंकर को चौथे तेज गेंदबाज के तौर पर देख रही है। रविंद्र जडेजा अपनी ऑलराउंड प्रतिभा के कारण चुने जा सकते हैं। स्पिन को मदद देने वाली पिचों पर वे असरदार साबित हो सकते हैं।
4. चौथे तेज गेंदबाज के लिए भी 4 दावेदार -
स्पिनर्स में कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल का चुना जाना पक्का है। वहीं तेज गेंदबाजों में जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी का स्थान पक्का माना जा रहा है। अगर चौथे तेज गेंदबाज को लिया जाता है तो इसके लिए इशांत शर्मा, खलील अहमद, उमेश यादव और नवदीप सैनी रेस में हैं। हालांकि हार्दिक और शंकर के रहते हुए चौथे तेज गेंदबाज के चुने जाने की संभावना कम है।

प्रादेशिक